Answer From LankaKand


Negative Resultकार्य पूर्ण होने में संदेह है।

चौपाई : बरुन कुबेर सुरेस समीरा। रन सन्मुख धरि काहूँ न धीरा॥

राम चरित मानस में स्थान : यह चौपाई लंकाकाण्ड में रावण की मृत्यु के पश्चात मन्दोदरी के विलाप के प्रसंग में है।






Negative ResultThere is doubt in the completion of work.

The Verse : Barun Kuber Sures Sameera. Ran Sanmukh Dhari Kaahoon Na Dheera.

The Place Of Occurence in Ramcharitmanas : This chaupai is in the context of the mourning of Mandodari after the death of Ravana in Lanka.





Site Icon